दिल्ली दरबार में सरकार के कामकाज की समीक्षा आज

Print

रांचीः कांग्रेस का दिल्ली दरबार हेमंत सोरेन सरकार के कामकाज की समीक्षा करेगा. मुख्यमंत्री के साथ कांग्रेस के आला नेता 25 को दिल्ली में बैठेंगे. श्री सोरेन रविवार को दिल्ली के लिए रवाना भी हो गये हैं. इधर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत को भी दिल्ली पहुंचने कहा गया है. श्री भगत भी दिल्ली पहुंचे हैं. श्री भगत आला नेताओं को सरकार के कामकाज से अवगत करायेंगे. सरकार की रिपोर्ट रखेंगे. श्री भगत पार्टी प्रभारी बीके हरि प्रसाद और केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री जयराम रमेश से मुलाकात करेंगे.सूचना के मुताबिक सरकार चलाने के लिए समन्वय समिति पर भी आला नेताओं की मुहर लगेगी. कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष के साथ पार्टी समन्वय समिति के सदस्यों के नाम तय करेंगे. कांग्रेस की ओर से प्रभारी समेत तीन से चार लोग समन्वय समिति में शामिल किये जा सकते हैं. कांग्रेस आला नेतृत्व राज्य में जल्द से जल्द समन्वय समिति बना कर सरकार के कामकाज में तेजी लाना चाहती है. इससे राज्य में विकास योजनाओं में तेजी आयेगी.

समन्वय समिति पर कांग्रेस लगायेगी मुहर

हेमंत नहीं चाहते हैं समन्वय समिति का अध्यक्ष पद

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन समन्वय समिति का अध्यक्ष पद नहीं चाहते. सरकार गठन के बाद राज्य में साझा कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के अध्यक्ष जयराम रमेश और समन्वय समिति के अध्यक्ष बीके हरि प्रसाद बनाये गये थे. बाद में बीके हरि प्रसाद ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को समन्वय समिति की जिम्मेवारी संभालने को कहा था. सूचना के मुताबिक श्री सोरेन ने जवाबदेही निभाने से असमर्थता जतायी है. उन्होंने बीके हरि प्रसाद से समन्वय समिति का अध्यक्ष पद पर बने रहने का आग्रह किया है.

पार्टी चाहती है कि साझा कार्यक्रम पर काम हो

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत ने कहा कि पार्टी के आला नेताओं से मुलाकात करेंगे. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के साथ भी बैठक होगी. बैठक में सरकार के कामकाज पर भी चर्चा होगी. पार्टी नेताओं के साथ समन्वय समिति के लिए भी नाम तय किया जायेगा.

कांग्रेस से समन्वय समिति में कौन-कौन हो सकते हैं